Loading...
Hindi

बच्चों से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

Please follow and like us:

बच्चे हम सभी को बेहद प्यारे होते है ऐसे में हम सभी उनके बारे में हर रोज़ कुछ नया जानने का प्रयास करते है ऐसे में आज हम आपको बच्चों से जुड़े कुछ रोचक तथ्य बताएँगे जिन्हे जानकार आप हैरत में पड़ जाएंगे।तो चलिए इन तथ्यों के बारे में विस्तारपूर्वक जानते है।

  • क्या आप जानते है की पूरी दुनिया में एक मिनट में कितने बच्चे पैदा होते है ? आपको बता दें की एक मिनट में पूरे विश्व में 255 बच्चे पैदा होते है। यानी हर एक सेकंड में 4 बच्चे पैदा होते है।
  • आपको बता दें की जब बच्चा पैदा होता है तब उसमे एक भी बक्टेरिया नहीं होता है यानि वह पूर्ण रूप से स्वच्छ होते है।
  • आपको यह जानकार हैरत होगी की जब बच्चा पैदा होता है सिर्फ ब्लैक और वाइट ही देख पाते है ऐसे में कई दिनों बाद ही वो रंगों की पहचान कर पाते है और कुछ दिनों बाद जो रंग वो सबसे पहले देखते है वो रंग लाल होता है।
  • अगर बात मनोवैज्ञानिकों की हो तो उनके अनुसार बच्चे सपने नहीं देखते है और यह स्तिथि कई महीनो तक बनी रह सकती है।
  • हर बच्चे में बड़ों के मुकाबले 60 हड्डियां ज़्यादा होती है ऐसे में जैसे जैसे बच्चे बड़े होते है यह कम होती चली जाती है।
  • अमेरिका में यह पाया गया है की 1 लाख बच्चे जन्म से ही कोकीन के आदि होते है ऐसे में यह बताया जाता है की उनकी माँ ने गर्भ के दौरान कोकीन का सेवन किया होता है।
  • आपको यह जानकार हैरानी होगी की एक बच्चा किसी भी व्यस्क से तीन गुना ज़्यादा स्वाद चख सकता है।
  • यह पाया गया है की जन्म के बाद अधिकतर हर बच्चा लेफ्ट हैंडेड ही होता है। बाद में वो अपनी उपयोगिता के हिसाब से अपने हाथों का इस्तेमाल करते है।
  • कई शोधों में यह पाया गया है की चीन में हर तीस सेकंड में एक बच्चा अपांग पैदा होता है। इसका मुख्य कारण हार्मोनल इम्बैलेंस बताया जाता है।
  • यह बताया जाता है की जो माताएं गर्भावस्था के दौरान खर्राटे लेती है उनके बच्चों की लम्बाई अन्य बच्चों के मुकाबले कम होती है।
  • आपको यह जानकार हैरानी होगी की गर्भ के दौरान अगर किसी माँ को कोई हानी पहुँचती है तो गर्भ में पल रहा बच्चा स्टेम सेल के द्वारा उसे ठीक कर सकता है।
  • यह बताया जाता है की 1838 से 1960 के बीच खींचे गए आधे से ज्यादा फोटो बच्चों के थे।
  • एक शोध में यह पाया गया है की 50,000 में से एक बच्चे के जन्म से ही गुर्दे नहीं होते है।
  • गर्भावस्था के दौरान यह बताया जाता है की डॉक्टर के द्वारा बताई गयी डेट पर सिर्फ चार प्रतिशत बच्चों का ही जन्म होता है।
  • जर्मनी, डेनमार्क, आइसलैंड व कुछ और देशो में बच्चों के नाम रखने के लिए कुछ नियम follow करने पड़ते हैं.
  • जन्म के बाद बच्चे का दिमाग सिर्फ 50 प्रतिशत ही ग्लूकोज़ को ही इस्तेमाल में ला पाता है इसी वजह से वह ज़्यादा सोता है।

हम आशा करते है की यह जानकारी आपके लिए ज्ञानवर्धक सिद्ध हुई होगी और आप इसे अपने मित्रों के साथ आवश्य शेयर करेंगे। अगर इस लेख से जुड़ा आपका कोई सुझाव या टिपण्णी हो तो हमारे साथ आवश्य शेयर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *